राजेश खन्ना की सुनहरी याद – आज आपको १ साल हुआ – Tribute to Late Rajesh Khanna ..

जीवन में कुछ पालेनेके बाद, खोनेका डर सबको रहता है
राजेश खन्ना ( जतीन खन्ना ) नेभी बहुत कुछ पाया था
और बहुत कुछ खोयाभी था , किन्तु अन्तिम सफ़रमे आनंद जीगया
और फीरएक बार सबकुछ पागया
एक एक्टर था,
और एक्टरको जरुरतके हिसाबसे फिल्म मे इमोशन दीखाने पड़ते है
किन्तु वास्तविक जीवन मे वो इमोशन दीखा नहीं शकते थे
लोनलीनेस , अकेलापन , तन्हाई , छुपातेभी छुपती नहीं है

कीतनी वास्तविकता भरे गीत उन्हे मीले…
जीन्दगी का सफ़र है ये कैसा सफ़र ….
कन्ही दूर जब दिन ढल जांये….
जींदगी कैसी है पहेली हाये कभी तो हसाए…

कुछ लोकप्रिय डायलोग्स :

पुष्पा, आई हेट टीयर्स …अमरप्रेम

बाबू मोशाय, जींदगी और मौत उपरवाले के हाथ मे है,
उसे ना आप बदल सकते है ना मै,
कब कौन, कैसे उठेगा, ये कोई नहीं जानता …आनंद

मै मरने से पहले मरना नहीं चाहता….सफर
ये तो मै भी जानता हूँ की जींदगी के आखरी मोड़ पर कीतना अँधेरा है …. सफर

रोमेन्टीक हीरो और सुपरस्टार को श्रधांजली

डॉ. सुधीर शाह की औरसे भावभरी श्रधांजली

 

375754_474249409269988_97052141_n

 

Advertisements

Posted on 18/07/2013, in Dr.Sudhir Shah. Bookmark the permalink. राजेश खन्ना की सुनहरी याद – आज आपको १ साल हुआ – Tribute to Late Rajesh Khanna .. માટે ટિપ્પણીઓ બંધ છે.

ટિપ્પણીઓ બંધ છે.

%d bloggers like this: